[विडियो] देहरादून में ग्राहकों को प्लास्टिक का चावल परोसा जा रहा था

[विडियो] देहरादून में ग्राहकों को प्लास्टिक का चावल परोसा जा रहा था

देहरादून | दून के अमन रेस्टोरेंट में ग्राहकों को प्लास्टिक का चावल परोसा जा रहा था। ग्राहक ने उसकी बॉल बनाकर उछाला तो वहां हड़कंप मच गया। रेलवे स्टेशन के पास एक रेस्टोरेंट में जब इस तरह से मामला सामने आया तो किसी ने इसका वीडियो बनाकर भी वायरल कर दिया।

प्लास्टिक के चावल की ऐसे करें पहचान

  • चमक: जब आप चावल को ध्यान से देखेंगे तो पाएंगे प्लास्टिक का चावल असली चावल की तुलना में ज्यादा चमकदार नजर आता है।
  • आकार: यदि दो तरह के नकली चावलों को एक साथ मिलाकर देखेंगे तो सारे चावलों की मोटाई और आकार एक जैसा ही दिखाई देगा।
  • वजन: नकली चावल का वजन असली की तुलना में कम होता है, इसीलिए तौलने पर नकली चावल की मात्रा अधिक होगी।
  • भूसी: नकली चावल बिल्कुल साफ सुथरा होगा, जबकि असली चावल में कहीं न कहीं धान की भूसी मिल ही जाएगी।
  • खुशबू: चावल को पकाते वक्त उसे सूंघ कर देखें। प्लास्टिक चावल पकते वक्त, बिल्कुल प्लास्टिक की तरह महकते हैं।
  • कच्चापन: प्लास्टिक का चावल काफी देर तक पकाने के बाद भी ठीक से नहीं पकता, जबकि असली चावल अच्छी तरह से पक जाता है।
  • मांड: प्लास्टिक चावल को पकाने के बाद, बचे हुए उसके पानी यानी मांड पर सफेद रंग की परत जम जाती है। यदि इस मांड को कुछ देर तक धूप में रखा जाए तो यह पूरी तरह से प्लास्टिक बन जाता है, जिसे जलाया भी जा सकता है। यह एक बेहतर तरीका है, प्लास्टिक चावल को पहचानने का।
  • प्लास्टिक चावल पानी में नहीं तैरता