गौचर मेले का नाम विश्व के संस्कृति कलेण्डर में दर्ज होगा – हरीश रावत

गौचर मेले का नाम विश्व के संस्कृति कलेण्डर में दर्ज होगा – हरीश रावत

DSC00012
गौचर | गौचर एवं जौलजीवी मेले राज्य में निरन्तर अपने उच्चतम पहचान की ओर अग्रसर है जिसमें प्रदेश की संस्कृति, स्थानीय उत्पादों एवं राज्य के विकास की झलक दिखती है। आने वाले समय में गौचर मेले का नाम विश्व के संस्कृति कलेण्डर में दर्ज होगा। यह बात सूबे के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गौचर मेले में जनता को संबोधित करते हुए कही। अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत मा0 मुख्यमंत्री आज गौचर मेले में शामिल हुए। उन्होंने मेले में लगे विभिन्न स्टाॅलों पर हस्तशिल्प, दस्तकारी एवं स्थानीय उत्पादों का निरीक्षण करते हुए उत्तराखण्ड भाषा-बोली संस्थान सहित लगभग 10 करोड़ लागत की 15 विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास/लोकपर्ण भी किया। इस अवसर पर डिप्टी स्पीकर व क्षेत्रीय विधायक डा0 अनुसूया प्रसाद मैखुरी भी उनके साथ मौजूद रहे।
« 1 of 6 »