व्‍हीलचेयर में बैठक कर हुआ क्रिकेट का मुकाबला, बांग्‍लादेश ने भारत को हराया

व्‍हीलचेयर में बैठक कर हुआ क्रिकेट का मुकाबला, बांग्‍लादेश ने भारत को हराया


उत्‍तराखंड की धरती रुद्रपुर में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय व्‍हीलचेयर त्रिकोणीय क्रिकेट चैंपियनशिप का आयोजन हुआ। पहले मुकाबले में बांग्‍लादेश ने भारत को छह विकेट से हराया।


रुद्रपुर, उधमसिंह नगर : उत्‍तराखंड की धरती रुद्रपुर में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय व्‍हीलचेयर त्रिकोणीय क्रिकेट चैंपियनशिप का आयोजन हुआ। व्‍हीलचेयर पर बैठक कर दिव्‍यांगों का क्रिकेट का मुकाबला हुआ। रोमांचक मुकाबला में बांग्‍लादेश ने भारत को छह विकेट से हराया।

क्रिकेट चैंपियनशिप का आयोजन गांधी पार्क के विशाल मैदान में रखा गया था, लेकिन देर रात की बारिश ने मैदान की हालत खस्‍ता कर दी। इसके बावजूद मैदान की व्‍यवस्‍थाओं को बेहतर बनाकर खेल शुरू किया गया।

रुद्रपुर में यह त्रिकोणीय मुकाबला भारत, बांग्‍लादेश और नेपाल के बीच होना है। तीन दिवसीय इस मैच में पहले दिन भारत और बांग्‍लादेश की टीमें भिड़ी। टॉस जीतकर बांग्‍लादेश ने पहले फील्‍डिंग करने का फैसला लिया। इस दौरान सबसे पहले बल्‍लेबाजी करने उतरे भारतीय कप्‍तान अतुल श्रीवास्‍तव और सौरभ मल्‍लिक ने बल्‍लेबाजी की। इस दौरान बांग्‍लादेश के बॉलर मोहमुदील ने गेंद फेंकी। जिस पर कप्‍तान 4 रन पर आउट हो गए, वहीं सौरभ मल्‍लिक बने रहे।



इस दौरान सौरभ ने टीम को जीवनदान देते हुए चौके लगाकर 24 रन से बढ़त बनाई। कप्‍तान की जगह पर बैटिंग करने उतरे खिलाड़ी रमेश शून्‍य रन पर आउट हो गए। इसके बाद सौरभ के साथ लक्ष्‍मण उतरे। इस दौरान 15 रन बनाकर रन आउट हो गए। इसके बाद साथी सौरभ के साथ बल्‍लेबाजी पर उतरे ललित ने चार रन का योगदान दिया और कैच आउट हो गए।

सौरभ के साथ खिलाडी हुकुम सिंह ने 12 रन का योगदान देकर आउट हो गए। वहीं, राजेंद्र धामी तीन रन बनाकर आउट हो गए। बैटिंग को उतरे सुनील पाटिल और संजीव जीरो पर आउट हो गए। वहीं शाहिद ने 4 रन बनाए और चलते बने। इस तरह भारत का स्‍कोर 150 रन बन पाया। बांग्‍लादेश को जीत के लिए 151 रन का लक्ष्‍य दिया गया। खिलाडी सौरभ ने अकेले 99 रन का योगदान देकर टीम को बचाया।

बांग्‍लादेश ने छह विकेट से भारत को हराया। बांग्‍लादेश की ओर से पहले बल्‍लेबाजी करने के लिए कप्‍तान मोहसिन व खिलाडी मिट्टू उतरे। कप्‍तान मोहसिन पांच गेंद पर 4 रन बनाकर चलते बने। रिपान ने 18 गेंद पर 19 रन बनाए और क्‍लीन बोल्‍ड हो गए। मोहिदुल ने 13 रन का योगदान दिया। मैदान पर डटे मिट्टू ने 76 रन बनाए। मिट्टू ने चौका लगाकर टीम को जीत दिलाई।



इससे पूर्व खेल मंत्री अरविंद पांडेय, बलराज पासी, विधायक राजकुमार ठुकराल, भारत भूषण चुघ, पूर्व पालिकाध्‍यक्ष मीना शर्मा, अनिल शर्मा ने चैम्‍पियनशिप का शुभारंभ मार्च पास्‍ट की सलामी और खिलाडियों से परिचय प्राप्‍त कर किया। इस दौरान बांग्‍लादेश की टीम को जीत पर सम्‍मानित किया गया। वहीं भारतीय टीम की हौसला अफजाई की गई। केएलए राइस मिलर्स एसोसिएशन के कुंदनलाल अग्रवाल ने टीम को टृाफी देकर सम्‍मानित किया। इस दौरान मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि खिलाड़ि‍यों का जज्‍बा ही है, जो दिव्‍यांगता के बाद भी इतने बड़े प्‍लेटफार्म पर खेल रहे है।

उन्‍होंने कहा कि अक्षम कोई नहीं हो, इरादे की मजबूती से अक्षम भी सक्षम बन सकता है। इस मौके पर पूर्व क्रीड़ाधिकारी रुद्रपुर सुरेश पांडेय, तरुण दत्‍ता, भारत भूषण चुघ, जिला क्रीडाधिकारी रशिका सिद्दीकी, राधेश शर्मा, सुरेश परिहार, कमल सक्‍सेना, सुभाष अरोरा, नागेंद्र शर्मा, रामप्रकाश गुप्‍ता, मनीषा तिवारी, बीडी जोशी आदि मौजूद रहे।